नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi)

0
433

 

डरते तो वो है जो अपनी छवि के लिए मरते है,
मै तो हिन्दुस्थान की छवि ले लिए मरता हूँ,

और इसलिए किसी से से भी नहीं डरता हूँ,

                                            -नरेन्द्र मोदी       

ऐसा कहना है दुनिया के सबसे शक्तिशाली लोगो में शामिल भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का जिन्हे हमारे देश की राजनीति की वजह से आप प्यार करे या नफरत लेकिन उनके कार्यो को अनदेखा नहीं किया जा सकता है।मोदी जी का जीवन बहुत ही साधारण तरीके से बीता लेकिन अपनी देश भक्ति, अपनी जज्बे और अपनी मेहनत के दम पर उनहोंने ऐसी सफलता हासिल की जिसके बारे में कोई सोच भी नहीं सकता है।

मोदी जी बहुत ही गरीब परिवार में जन्मे थे अपने बचपन के दिनों में जब बच्चे खेलने में अपने समय वितीत करते है तब उन्होने अपने घर की आर्थिक सहयता के लिए अपनी पिता की दुकान में हाथ बटाया। और ट्रेन के डिब्बों में जा-जा कर चाय बाटी।

अब हम नरेंद्र मोदी जी के सफर को विस्तार से जानते है।-

नरेंद्र मोदी जी का जन्म 17 सितम्बर 1950 को बॉम्बे राज्य के मेहसँ जिला के वडनगर नाम के एक गांव में हुआ था। हम आपको बता दे की बॉम्बे राज्य पहले भारत का ही एक राज्य था जिसे 1 मई 1960 में अलग कर गुजरात और महारष्ट्र बना दिया गया। इस वक़्त मोदी जी का जन्म स्थान गुजरात राज्य के अंतर्गत आता है। नरेंद्र मोदी जी के पिता ता नाम दामोदर दास मूलचंद मोदी था और माता जी का नाम हीराबेन मोदी है। नरेंद्र मोदी जी के जन्म के समय उनका परिवार बहुत ही गरीब था और वो बहुत छोटे और कच्चे मकान में रहते थे। नरेंद्र मोदी अपने 6 भाई-बहनो में तीसरे पुत्र है। यदि जी के पिता रेलवे स्टेशन में एक छोटी सी चाय की दुकान चलते थे जिसमे नरेंद्र मोदी जी भी उनकी सहयता किया करते थे।

नरेंद्र मोदी जी की शुरूआती शिक्षा वडनगर के स्थानीय स्कूल से पूरी हुई, उन्होंने वहां सन 1967 तक अपनी हायर सेकेंडरी तक की पढ़ाई पूरी कर ली थी। उसके बाद वह अपने भाई के साथ अहमदाबाद में एक रेलवे स्टेशन के पास एक चाय स्टॉल लगाया करते थे। वे आर्मी स्कूल में पढ़ाई करके इंडियन आर्मी में भर्ती होना चाहते थे। इसके लिए उन्होंने काफी कोशिश भी की थी, लेकिन परिवार की हालत अच्छी नहीं होने की वजह से उनका आर्मी स्कूल में एडमिशन लेने का सपना महज एक सपना ही रह गया। फिर मोदी जी ने 1978 में अपनी उच्च शिक्षा के लिए भारत के दिल्ली यूनिवर्सिटी में और उसके बाद अहमदाबाद में गुजरात यूनिवर्सिटी में दाखिला लिया।

नरेन्द्र मोदी का विवाह उनके पिता ने 13 साल की उम्र में जशोदाबेन से तय कर दी थी। और मात्र 2 वर्ष बाद दोनों अलग भी हो गया था। मोदी जी का ऐसा मानना है, कि जब तक कोई व्यक्ति परिवार के बंधन में होता है। तब तक वह भस्टाचार के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठा सकता यदि व्यक्ति पर परिवार और बच्चो की चिंता नही होती तो वह भ्रस्टाचार के खिलाफ जंग लड़ने में ज्यादा सक्षम होता है। परिवार की जिम्मेदारी देश सेवा में विघ्न डालती है। नरेन्द्र मोदी जी ने अपना पूरा जीवन देश की सेवा में समर्पित कर दिया।

राजनीति में नरेंद्र मोदी जी का प्रवेश-

  • अपनी कॉलेज की पढ़ाई के बाद मोदी जी अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद में शामिल हो कर फुलटाइम प्रचारक के रूप में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (RSS) जोकि एक हिन्दू राष्ट्रवादी राजनीतिक दल हैं में शामिल होने के लिए अहमदाबाद गये।
  • 1975 में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी द्वारा लगाये गये राष्ट्रीय आपातकाल के दौरान, राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ में प्रतिबंध लगा दिया गया था। जिसके कारण मोदी को उस समय अंडरग्राउंड होने के लिए मजबूर होना पड़ा। और गिरफ़्तारी से बचने के लिए भेस बदल कर याबा किया करते थे।
  • 1987 में नरेंद्र मोदी जी का भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल होने के बाद रैंक के माध्यम से तेजी से उदय हुआ, क्योंकि वे एक बहुत ही बुद्धिमानी व्यक्ति थे। उन्होंने व्यवसायों, छोटे सरकारी हिन्दू मूल्यों के निजीकरण को बढ़ावा दिया।
  • इसी साल इन्हें पार्टी के गुजरात ब्रांच के महासचिव के रूप में चुना गया। और पहली बार उन्होंने अहमदाबाद नगरपालिका चुनाव में भाजपा के अभियान को व्यवस्थित करने में मदद की, इसमें भाजपा की जीत हुई।
  • 1990 में एल के आडवानी जी की अयोध्या रथ यात्रा के संचालन में मदद करने के बाद पार्टी के भीतर मोदी जी की क्षमताओं को मान्यता मिली, जो उनका पहला राष्ट्रीय स्तर का राजनीतिक कार्य बन गया।
  • 1991-92 में मुरली मनोहर जोशी की एकता यात्रा हुई। मोदी जी ने 1990 में गुजरात विधानसभा चुनावों के बाद गुजरात में भाजपा की उपस्थिति को मजबूत करने में एक प्रमुख भूमिका निभाई थी|
  • 1995 के चुनावों में पार्टी ने 121 सीटें जीतीं, जिससे गुजरात में पहली बार भाजपा की सरकार बनी. पार्टी थोड़ी समय के लिए सत्ता में रही, जो सितंबर 1996 में समाप्त हो गई.
  • 1998 में जब भाजपा में आंतरिक लीडरशिप विवाद चल रहा था, तब मोदी जी ने उस दौरान भाजपा की चुनाव जीत का मार्ग प्रशस्त किया, जिससे विवादों को सुलझाने में सफलतापूर्वक मदद मिली।
  • इसके बाद इसी साल मोदी जी को महासचिव नियुक्त किये गये। उस दौरान मोदी जी को विभिन्न राज्यों में पार्टी संगठन को फिर से लाने की जिम्मेदारी सफलतापूर्वक निभाने का श्रेय दिया गया था।

गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में नरेंद्र मोदी जी-

  • 2001 में नरेंद्र मोदी जी ने पहली बार विधान सभा चुनाव लड़ा, और राजकोट में 2 में से एक सीट की जीत हासिल हुई। जिसके बाद वे गुजरात के मुख्यमंत्री बन गए। जिसके बाद बीजेपी की राष्ट्रीय लीडरशिप केशुभाई पटेल के हाथ से लेकर मोदी जी को दी गई थी। 7 अक्टूबर 2001 को मोदी जी ने गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण की।
  • 2002 में मोदी जी के दोबारा गुजरात के मुख्यमंत्री बनने के बाद उन्होंने राज्य के विकास के लिए कार्य करने शुरू कर दिए। उन्होंने गुजरात राज्य में टेक्नोलॉजी और वित्तीय पार्क्स का निर्माण किया।
  • 2007 में हुए गुजरात विधानसभा चुनाव में मोदी जी ने तीसरी बार जीत हासिल की और वे वहां के तीसरी बार मुख्यमंत्री बन गये। इस कार्यकाल के दौरान मोदी जी ने राज्य में आर्थिक विकास, ग्लोबल मैन्युफैक्चरिंग एपीसेंटर के रूप में अपनी नीतियों को प्रोत्साहित किया
  • 2012 में मोदी जी का चौथी बार जीत हासिल की और उन्हें चौथी बार भी गुजरात के मुख्यमंत्री का पदभार संभालने के लिए नियुक्त कर दिया।

भारत के प्रधानमंत्री के रूप में नरेंद्र मोदी जी-

  • नरेंद्र मोदी जी के चौथी बार गुजरात के मुख्यमंत्री बनने के एक साल बाद जून में उन्हें भारतीय जनता पार्टी का अध्यक्ष बना दिया गया। 2014 में होने वाले आम चुनाव में प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के रूप में दिखाई दिए।
  • 2014 के आम चुनाव में बीजेपी की जीत एक ऐतिहासिक जीत बन गई थी। और इस तरह से नरेंद्र मोदी जी भारत के प्रधानमंत्री के रूप में एक नया चेहरा बन गये। 26 मई 2014 को नरेंद्र मोदीजी ने प्रधानमंत्री पद की शपथ ग्रहण की, और इस तरह से वे देश के 14 वें प्रधानमंत्री नियुक्त हो गये।
  • 2019 लोकसभा चुनाव में मोदी क्रांति ने दुसरे दलों को बहुत पीछे छोड़ दिया। नरेन्द्र मोदी जी की पूर्ण बहुमत के साथ 303 सीट प्राप्त कर अभूतपूर्व जीत हुई। भारत के इतिहास में पहली बार है कि किसी नेता ने लगातार दूसरी बार पूर्ण बहुमत के साथ इतनी बड़ी जीत हासिल की है।

 

Narendra Modi short Biography

Bio/Wiki

  • Name: Narendra Damodardas Modi
  • Date Of Birth:17 september 1950
  • Birthplace:  Wadnagar, Gujrat
  • Nationality: Indian
  • Eduction: Post Graduate
  • Profession: Social Worker

Family Information

  • Father: Damodar mulchanddas Modi
  • Mother: Smt.Hiraben Daodardas Modi
  • Spouse’s: Smt. Joshodaben Modi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here